फरार एसपी संजय पाटिल महाबलेश्वर से गिरफ्तार

🔸अदालत ने दिया 2 दिन का पीसीआर

✒️संजय तिवारी  चंद्रपूर (Chandrapur जिल्हा प्रतिनिधी)

चंद्रपूर(दि.15 मे) :- 

चंद्रपुर नई बियर शपी के लाइसेन्स देने के काम के लिए 1 लाख व रूपए की रिश्वत मांगने के मामले में फरार आरोपी आबकारी विभाग के अधीक्षक ने संजय पाटिल को आखिरकार रिश्वत व प्रतिबंधक विभाग ने 14 मई को गिरफ्तार ने कर लिया है.

उन्हें अदालत में पेश करने पर कोर्ट ने 2 दिन का पीसीआर दिया है. जानकारी के मुताबिक, घुग्घूस निवासी शिकायतकर्ता को बियर शापी के लाइसेन्स चाहिए था. लाइसेन्स देने के काम के लिए 7 मई को दुय्यम निरीक्षक खारोडे ने एक लाख की रिश्वत की मांग की थी. कार्यालय ने अधीक्षक अभय खताड के माध्यम से स्वीकार की थी. एसीबी की जांच पड़ताल के पश्चात रिश्वत लेने के लिए अधीक्षक पाटिल ने हामी भरी थी. एसीबी ने इस मामले में खारोडे व खताड को पहले ही गिरफ्तार किया था. अधीक्षक पाटिल फरार थे.

एसीबी टीम ने अधिकारियों के घर से लाखों रुपए का माल जब्त कर लिया था. इसी बीच फरार अधीक्षक संजय पाटिल ने अग्रिम जमानत के लिए जिला न्यायालय में आवेदन किया था. लेकिन अदालत ने अग्रिम जमानत खारिज कर दी. अब वकीलों के माध्यम से हाईकोर्ट में गिरफ्तारी पूर्व जमानत के लिए आवेदन करने की जानकारी प्राप्त हुई है.

इसी बीच 14 मई को फरार आरोपी संजय पाटिल एसीबी ने गिरफ्तार कर लिया. उन्हें न्यायालय में पेश करने पर न्यायालय ने दो दिन का पीसीआर दिया है. मामले की आगे की जांच वरिष्ठों के मार्गदर्शन की जा रही है. जिले में कहीं भी शासकीय अधिकारी व कर्मचारी तथा उनके माध्यम से रिश्वत की मांग करने पर रिश्वत प्रतिबंधक विभाग से संपर्क करने का आह्वान किया जा रहा है.